‘हेरा फेरी’ के निर्माता नीरज वोरा पिछले 10 महीनों से कोमा में

एक्टर और फिल्म निर्माता नीरज वोरा जिन्होंने बादशाह और मन जैसी फिल्मों में काम किया है और हेरी फेरी, चाची 420 जैसी फिल्मों का निर्देशन किया है, वो...

85 0
85 0

एक्टर और फिल्म निर्माता नीरज वोरा जिन्होंने बादशाह और मन जैसी फिल्मों में काम किया है और हेरी फेरी, चाची 420 जैसी फिल्मों का निर्देशन किया है, वो पिछले 10 महीनों से कोमा में हैं। उनके कोमा में होने की वजह हार्ट अटैक है जिसके बाद उन्हें ब्रेन स्ट्रोक हो गया। यह घटना पिछले साल 19 अक्टूबर 2016 को हुई थी। उन्हें अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया गया था। बाद में उन्हें उनके जिगरी दोस्त फिरोज नाडियाडवाला के घर बरकत विला में शिफ्ट कर दिया गया।

बताया जा रहा है कि उनके दोस्त फिरोज नाडियाडवाला उनकी सारी जिम्‍मेदारी उठा रहे हैं. फिरोज ने जुहू स्थित अपने घर ‘बरकत विला’ के एक कमरे को आईसीयू में बदल दिया है. फिरोज के अनुसार, मार्च 2017 से ही 24 घंटे एक नर्स, वॉर्ड ब्वॉय और कुक नीरज के साथ रहता है. इसके अलावा फिजियोथेरेपिस्ट, न्यूरो सर्जन, एक्यूपंक्चर थेरेपिस्ट और जनरल फिजिशियन हर हफ्ते विजिट पर आते हैं. नीरज का पूरा ख्‍याल रखा जा रहा है.

निर्माता का एक दोस्त जो उन्हें नियमित तौर पर देखने के लिए नाडियाडवाला के घर आता है उसने एक लीडिंग एंटरटेनमेंट पोर्टल को बताया- उन्होंने (वोरा) आंतरिक सेंसेशन का रिस्पॉन्स देना शुरू कर दिया है और जिसकी वजह से यह उम्मीद जगी है कि वो जल्द ही ठीक हो जाएंगे।

बता दें कि नीरज ने फिर हेराफेरी, खिलाड़ी 420 जैसी फिल्‍म निर्देशित की है. वे थिएटर में भी सक्रिय हैं. वे गुजराती प्‍ले आफ्टरनून कर चुके हैं. इसके अलावा नीरज वोरा राइटर भी हैं. उन्‍होंने रंगीला, अकेले हम अकेले तुम, ताल, जोश, बदमाश, चोरी चोरी चुपके चुपके, अवारा पागल दीवाना जैसी फिल्‍मों के संवाद लिखे हैं.

नीरज हेराफेरी 3 पर काम कर रहे थे, लेकिन बीमारी के चलते इसमें रुकावट आ गई. बताया जा रहा है कि नीरज पैसों की तंगी से भी जूझ रहे हैं.

In this article