प्रवासी सम्मेलन में PM मोदी की बाते, जाने विस्तार से

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को प्रवासी भारतीय केंद्र में PIO संसदीय सम्मेलन का उद्घाटन किया , इस सम्मेलन में 23 देशों के 124 सांसद और 17 मेयर...

112 0
112 0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को प्रवासी भारतीय केंद्र में PIO संसदीय सम्मेलन का उद्घाटन किया , इस सम्मेलन में 23 देशों के 124 सांसद और 17 मेयर के शामिल हुए। इस दौरान पीएम मोदी ने कार्यक्रम को संबोधित भी किया। उन्होंने कहा कि 21वीं सदी भारत की है और हमारी नजर किसी की जमीन पर नहीं है।

पीएम मोदी के भाषण की बड़ी बातें…

  • पीएम मोदी ने कहा कि भारत की विकास यात्रा में प्रवासी भारतीयों का भी पूरा महत्व है, आप निवेश के जरिए भी देश की सेवा कर सकते हैं।
  • पीएम ने 2019 में होने वाले कुंभ मेले का भी जिक्र किया, उन्होंने कहा कि यूपी सरकार इसके लिए व्यापक तैयारी कर रही हैं. अगले साल जब आप भारत आएं तो कुंभ मेले का भी दर्शन करेंहमारा विकास का मॉडल गिव ऐंड टेक पर आधारित नहीं है बल्कि अन्य देशों की अवस्था पर निर्भर करता हैः पीएम मोदी
  • भारत और ASEAN देशों के संबंधों की झांकी गणतंत्र दिवस पर पूरी दुनिया देखेगीः पीएम मोदी
  • गांधी जी के विचार आज भी प्रासंगिक हैं। अहिंसा और सत्याग्रह से कोई भी मुद्दा सुलझाया जा सकता हैः पीएम मोदी
  • जहां वैश्वक समाज अलग-अलग विचारधाराएं बढ़ रही है वहां आप समावेशी संस्कृति का उदाहरण दे सकते हैंः पीएम मोदी
  • टूरिजम को बढ़ाने के लिए भी प्रवासी भारतीय मदद कर सकते हैं। आज विदेश में बसा भारतीय खुद को देश की प्रगति का सहायक मानता हैः पीएम मोदी
  • आज अगर विश्व में FDI के लिए सर्वाधिक आकर्षक व्यवस्था भारत में है तो इसमें प्रवासी भारतीयों का बड़ा योगदान हैः पीएम मोदी
  • भारत के विकास के लिए हमारे प्रयासों में हम प्रवासी भारतीयों को अपना पार्टनर मानते हैंः पीएम मोदी
  • मैं जब भी किसी देश की यात्रा करता हूं तो मैं वहां रहने वाले भारतीय मूल के लोगों से मिलना चाहता हूं। मैं मानता हूं कि विश्व के साथ भारत के संबंधों के लिए भारतीय मूल के लोग ही स्थाई राजदूत हैंः पीएम मोदी
  • भारत के विकास यात्रा में प्रवासी भारतीयों का मजबूत विश्वास है: मोदी
  • टूरिज्म को बढ़ावा देने में प्रवासी भारतीयों का अनेक योगदान हो सकता है: मोदी
  • भारत की विकास यात्रा में प्रवासी भारतीयों के लिए कई एवेन्यू: मोदी
  • पहले और दूसरे विश्वयुद्ध में 1.5 लाख से अधिक भारतीय सैनिकों ने अपनी जान गंवाई थी। तब भारत का युद्धों के साथ कोई लेना देना नहीं था। इस बात को मानना होगा कि भारत ने कितना बड़ा बलिदान दिया थाः पीएम मोदी
  • पहले प्रवासी सांसद सम्मेलन में बोले पीएम- देश के कोने-कोने से जुड़ी हैं आपकी यादें
  • भारतीय जहां भी गए, उसे अपना बनाया: पीएम मोदी
  • प्रवासी भारतीयों से बोले पीएम मोदी- वेलकम टू इंडिया, वेलकम टू होम
  • भारतीय मूल की एक मिनी वर्ल्ड पार्ल्यामेंट हमारे सामने मौजूद हैः पीएम मोदी
  • विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि 2003 से प्रवासी भारतीय दिवस मनाया जा रहा है, अटल जी की सरकार से इस कार्यक्रम की शुरुआत हुई।
  • महात्मा गांधी 9 जनवरी को अफ्रीका से वापस लौटे थे, इसलिए इस दिन को चुना गया था।
  • 2003 से आज तक ऐसा नहीं हुआ कि जिसमें भारतीय मूल के जनप्रतिनिधियों को बुलाया हो, ये आइडिया पीएम मोदी का था, जिसके लिए मैं उन्हें धन्यवाद देती हूं।
  • इस आयोजन की खास बात ये है कि इस सम्मेलन में फिजी और मॉरीशस जैसे देशों के प्रतिनिधि भी हिंदी भाषा में ही अपना भाषण देंगे। इस सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए 30 देशों को आमंत्रण भेजा गया था और 23 ने अपनी भागीदारी की पुष्टि की है।
  • इस बारे में जानकारी विदेश मंत्रालय में सचिव (वाणिज्यिक, पासपोर्ट, वीजा और प्रवासी भारतीय) डी. एम. मुले ने ट्वीट के जरिए दी है। आपको बता दें कि इस सम्मेलन में 23 देशों के भारतीय मूल के 140 से अधिक सांसद और मेयर शामिल होंगे।इस सम्मेलन का उद्देश्य प्रवासी भारतीयों से संपर्क के जरिए इन देशों से संबंध मजबूत बनाना है।
In this article