आपदा: ईरान-इराक बॉर्डर पर भूकंप, कब्रें टूट गईं और उनसे लाशें बाहर आ गईं

ईरान-इराक सीमा के पास आए शक्तिशाली भूकंप से 450 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है और सैकड़ों लोग घायल हो गए हैं। स्थानीय मीडिया के अनुसार...

176 0
176 0

ईरान-इराक सीमा के पास आए शक्तिशाली भूकंप से 450 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है और सैकड़ों लोग घायल हो गए हैं। स्थानीय मीडिया के अनुसार राहत और बचाव कार्य जारी है और मलबे में और कई लोगों के दबे होने की आशंका है। ईरान के अधिकारियों ने बताया कि इस हादसे में 2500 से ज्यादा लोग घायल हैं। भूकंप रविवार रात 9.18 मिनट पर आया जिसकी गहराई 15 मील थी। “पूरा गांव तबाह हो गया. कब्रें तक टूट गईं और उनमें से लाशें बाहर आ गईं.

अमेरिकी भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण (यूएसजीएस) के मुताबिक, रविवार को ईरान सीमा के पास इराक के शहर हालाब्जा से 30 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम में रात 9.20 बजे भूकंप आया. भूकंप 33.9 किलोमीटर की गहराई में दर्ज किया गया.

ईरान के सरकारी टेलीविजन के अनुसार हजारों लोगों को राहत शिविरों रखा गया है जबकि बड़ी संख्या में लोग खुले आसमान के नीचे हैं। उन्होंने कहा कि रविवार को आये 7.3 तीव्रता के भूकंप के बाद करीब 193 झटके महसूस किये गये हैं। भूकंप से ईरान के 14 प्रांत प्रभावित हुए हैं। सबसे अधिक प्रभावित शहर सारपोल-ए-जेहाब की एक महिला ने कहा कि टेंट की कमी के कारण उनके परिवार को खुले आसमान के नीचे रात बितानी पड़ी है। महिला ने कह कि रात में बहुत ठंड हैं और हमें मदद की जरूरत है। हमें हर चीज की जरूरत है। प्रशासन को मदद तेज करनी चाहिए। ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी आज प्रभावित इलाकों का दौरा करेंगे।

भूकंप पीड़ित रेजा मोहम्मदी ने कहा कि वह और उसका परिवार पहले झटके के बाद गली की तरफ दौड़ा. मैंने वापस जाकर कुछ सामान बटोरने की कोशिश की, लेकिन दूसरे झटके में मकान पूरी तरह गिर गया. इराक में भूकंप के कारण क्षेत्र में 20 से अधिक गांव नष्ट हो गए हैं और बिजली एवं पानी की आपूर्ति बाधित हो गई है. ईरान के प्रधानमंत्री हैदर अल अबादी ने देश की नागरिक रक्षा टीमों और संबंधित संस्थानों को प्राकृतिक आपदा से निपटने का निर्देश दिए हैं.

In this article