आजम की यूनिवर्सिटी में पहुंचा आर्मी टैंक, लगे भारतीय सेना जिंदाबाद के नारे

छात्रों में देशभक्ति की भावना बढ़ाने के लिए विश्वविद्यालय में सेना के टैंक रखने का सुझाव जेएयू के वाइस-चांसलर जगदीश कुमार ने दिया था लेकिन इसे अमली जामा...

76 0
76 0

छात्रों में देशभक्ति की भावना बढ़ाने के लिए विश्वविद्यालय में सेना के टैंक रखने का सुझाव जेएयू के वाइस-चांसलर जगदीश कुमार ने दिया था लेकिन इसे अमली जामा पहनाने का श्रेय समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान ने पाया। रामपुर स्थित मौलाना जौहर अली उर्दू विश्वविद्यालय के कैंपस में बुधवार (11 अक्टूबर) सेना का भेजा हुआ टैंक पहुंच गया। इस यूनिवर्सिटी के संस्थापक और चांसलर सपा विधायक आजम खान हैं।

खबर के अनुसार आजम खान ने कहा कि सेना ने हमारी यूनिवर्सिटी को टैंक देकर सम्मान बढ़ाया है। टैंक पहुंचा तो छात्रों ने जोशो खरोश से उसका स्वागत किया। खबर के अनुसार सेना का चाबुक टैंक विश्वविद्यालय के इंजीनियरिंग के छात्रों को प्रशिक्षण देने के लिए आया है। टैंक के पहुंचने पर छात्रों ने आजम खान जिंदाबाद, जौहर यूनिवर्सिटी जिंदाबाद और भारतीय सेना जिंदाबाद के नारे लगाये।

एक हिंदी वेबसाइट के मुताबिक, आजम खान ने कहा कि सेना से हजारों यूनिवर्सिटी ने टैंक के लिए आवेदन किया था लेकिन केवल 11 यूनिवर्सिटी को ये मिले. इस टैंक को 1.96 लाख रुपये में यूनिवर्सिटी को दिया गया है. उन्होंने सेना का धन्यवाद भी दिया. यह बात हमारे लिए बहुत गर्व की है कि इंडियन आर्मी ने हमारी यूनिवर्सिटी को टैंक दिया. इसके लिए मैं इंडियन आर्मी का धन्यवाद करता हूं.

इस दौरान उन्होंने भाजपा पर भी निशाना साधा. आजम खान ने कहा कि सेना बीजेपी का कोई संगठन नहीं है, सेना तो सिर्फ सेना है. अगर किसी को लगता है कि हमारी यूनिवर्सिटी को सेना से कोई तोहफा उनकी सिफारिश पर मिलेगा तो उन्हें ऐसी खुशफहमी में नहीं रहना चाहिए.

In this article