बीजेपी की महिला नेत्री का अश्लील वीडियो वायरल होने से मचा हड़कंप

भाजपा महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष बनने के अगले ही दिन गीता सिंह उर्फ गीता देवी के साथ ब्लैकमेलिंग का मामला सामने आ गया। मंगलवार को सोशल साइट फेसबुक...

335 0

http://craigpauldesign.co.uk/?izi=%D9%85%D8%A4%D8%B4%D8%B1-%D8%A7%D9%84%D8%B3%D9%88%D9%82&41a=32 مؤشر السوق भाजपा महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष बनने के अगले ही दिन गीता सिंह उर्फ गीता देवी के साथ ब्लैकमेलिंग का मामला सामने आ गया। मंगलवार को सोशल साइट फेसबुक और वाट्सएप पर उनका एक आपत्तिजनक वीडियो वायरल कर दिया गया है। यह फुटेज कितना सही है और कितना मिलावटी, इसकी जांच अभी बाकी है। http://1conn.com/?binarforexar=سعر-جنية-الذهب-السعودي-اليوم-6-1-2014 जिलाध्यक्ष गीता सिंह ने इसे फर्जी बताते हुए मंगलवार को भूली निवासी सत्येंद्र कुमार सिन्हा के खिलाफ केंदुआ थाने में प्राथमिकी दर्ज करा दी है। उनका कहना है एक पुराने वीडियो से छेड़छाड़ कर उसे आपत्तिजनक बनाकर ब्लैकमेलिंग करने के लिए ऐसा किया गया है। सत्येंद्र कुमार सिन्हा पैसे के लिए उन्हें लंबे समय से ब्लैकमेल कर रहे हैं। http://skylarkstudios.co.uk/?pomulyyko=%D8%A7%D9%84%D8%AE%D9%8A%D8%A7%D8%B1%D8%A7%D8%AA-%D8%A7%D9%84%D8%AB%D9%86%D8%A7%D8%A6%D9%8A%D8%A9-%D8%A3%D8%B4%D8%B1%D8%B7%D8%A9-%D8%A7%D9%84%D9%81%D9%8A%D8%AF%D9%8A%D9%88-%D8%AA%D8%AC%D8%B1%D9%8A%D8%A8&fb8=46 गीता ने पहले भी दर्ज कराया है मुकदमा اسعار اسهم اتصالات الامارات यह दूसरा मौका है जब गीता सिंह ने सत्येंद्र कुमार सिन्हा के खिलाफ केंदुआडीह थाने में मामला दर्ज कराया है। इसके पूर्व गीता सिंह ने 7 जुलाई 2016 को भी इसी तरह की प्राथमिकी दर्ज कराई थी। आरोप लगाया था कि उन्हें ब्लैकमेल कर प्रताड़ित किया जा रहा है। source url पुलिस ने बीसीसीएल में कार्यरत भूली निवासी सत्येंद्र कुमार सिन्हा के खिलाफ एक बार फिर आइटी एक्ट में प्राथमिकी दर्ज कर उसकी खोजबीन शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि पहली प्राथमिकी दर्ज होने के बाद से ही सत्येंद्र सिन्हा फरार चल रहा है। पुलिस ने उसकी खोज और गिरफ्तारी के लिए तीन चार बार भूली स्थित उसके घर पर छापेमारी की लेकिन वह नहीं मिला। ما هو سوق الفوركس 24 घंटे के भीतर आरोपी हो गिरफ्तार: गीता कतरास follow url गीता सिंह का कहना है कि भाजपा महिला मोर्चा के जिला अध्यक्ष का पदभार संभालते ही मैं विरोधियों की आंखों की किरकिरी बन गयी हूं। साजिश के तहत बदनाम करने के लिए ही विरोधियों द्वारा यह गलत हरकत की गई है। पूर्व से ही यह साजिश रची जा रही थी और इसकी सूचना उस समय भी पुलिस को दी गई थी। इस बार भी पुलिस को लिखित रूप से मामले से अवगत कराते हुए इंसाफ की मांग की हूं। पुलिस 24 घंटे के भीतर आरोपी की गिरफ्तारी सुनिश्चित कर मुझे इंसाफ दिलाए।

click here
In this article