बाथरूम में 5.70 करोड़ रुपये छुपाकर रखने वाला हवाला कारोबारी गिरफ्तार, कर्नाटक में कई जगहों पर सीबीआई छापे

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कर्नाटक में काले धन को सफेद करने वाले सात दलालों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से 93 लाख रुपये भी बरामद किए गए...

100 0
100 0

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कर्नाटक में काले धन को सफेद करने वाले सात दलालों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से 93 लाख रुपये भी बरामद किए गए हैं। ईडी के ए‍क अधिकारी ने खुद को कस्‍टमर के रूप पेशकर इन दलालों से संपर्क किया। इसके बाद इन्‍हें गिरफ्तार कर लिया गया। दलालों के तार किनसे जुड़े हुए हैं इस संबंध में ईडी ने जांच शुरू कर दी है। कई बैंक अफसर भी शक के दायरे में है। इधर, चित्रदुर्ग में बाथरूम से 5.70 करोड़ रुपये की नकदी मिलने के मामले में चार बैंककर्मी बर्खास्‍त कर दिए गए है। इन पर आरोप है कि उन्‍होंने पीछे के दरवाजे से 2000 के नए नोटों से बंद किए गए नोट बदल दिए। वहीं सीबीआई ने हवाला कारोबारी केवी वीरेंद्र को भी गिरफ्तार कर लिया है। वीरेद्र के घर से ही 5.70 करोड़ रुपये बरामद किए गए थे। सीबीआई ने कर्नाटक में और भी कई ठिकानों में पर छापे मारे हैं।

गौरतलब है कि जनार्दन रेड्डी ने पिछले दिनों अपनी बेटी की शादी में जमकर पैसा खर्च किया था। बताया जाता है कि 500 करोड़ रुपये खर्च किए गए। इसके बाद कर्नाटक के पूर्व मंत्री और खनन कारोबारी जनार्दन रेड्डी की बेल्लारी स्थित ओबुलापुरम माइनिंग कंपनी के दफ्तर में सोमवार को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने छापा मारा। बताया जा रहा है कि जनार्दन रेड्डी के दफ्तर से जांच टीम ने कुछ फाइलें भी जब्त की है।

गौरतलब है कि बेटी की शाही शादी को लेकर रेड्डी चर्चा में रहे थे। बाद में कर्नाटक के एक प्रशासनिक अधिकारी के ड्राइवर ने बुधवार (7 दिसंबर) को सुसाइड कर लिया। उसने अपने सुसाइड नोट में लिखा कि उसे पता था कि जनार्दन रेड्डी 100 करोड़ रुपए के कालेधन को व्हाइट कर रहे हैं। ड्राइवर के नोट के अनुसार रेड्डी और वह प्रशासनिक अधिकारी मिलकर उसका मानसिक शोषण करते थे। ड्राइवर ने पत्र में यह भी लिखा कि रेड्डी ने कर्नाटक के प्रशासनिक सेवा के अधिकारी (जिसका वह शख्स ड्राइवर था) से पैसे सफेद करवाए थे।

In this article