आधार नंबर नहीं है तो AIIMS में देना होगा 10 गुना शुल्‍क

आधार नंबर से एम्स में इलाज कराना आसान हो जाएगा। वहीं जिसके पास आधार कार्ड नहीं है या कार्ड होते हुए आधार नंबर से पंजीकरण नहीं कराने पर...

119 0
119 0

आधार नंबर से एम्स में इलाज कराना आसान हो जाएगा। वहीं जिसके पास आधार कार्ड नहीं है या कार्ड होते हुए आधार नंबर से पंजीकरण नहीं कराने पर एम्स में इलाज कराना मुश्किल भी हो जाएगा।

मरीजों को आधार नंबर से जोडऩे के मकसद से एम्स जल्द यह योजना लागू करेगा जिससे आधार कार्ड होने पर मरीजों का ओपीडी कार्ड एम्स में निशुल्क बन सकेगा। वहीं पंजीकरण के लिए आधार नंबर उपलब्ध नहीं कराने वाले मरीजों को ओपीडी कार्ड के लिए 10 रुपये की जगह नए साल में 100 रुपये भुगतान करने पड़ेंगे।

इससे आर्थिक रूप से कमजोर मरीजों की मुश्किलें बढ़ सकती है। हालांकि एम्स प्रशासन का कहना है कि बीपीएल (गरीबी रेखा से नीचे) श्रेणी के मरीजों को निशुल्क ओपीडी कार्ड बनाया जाएगा।

एम्स के कंप्यूटरीकरण विभाग के चेयरमैन डॉ. दीपक अग्रवाल ने नोटबंदी के बाद कैशलेस भुगतान के लिए संस्थान में किए गए उपायों और आगामी योजनाओं के संदर्भ में आयोजित प्रेसवार्ता में कहा कि मरीजों को सुविधा देने के लिए कई तरह के कदम उठाए गए हैं।

In this article